Top display banner ad

मेरा अश्क

मेरा अश्क 

मेरा हर अश्क कहता है 
अपना देश बचाओ 
इसे छोड के न जाओ 
इसे अपना बनाओ 

     


मेरा हर अश्क कहता है 
अपना फर्ज निभाओ 
इसे छोड़ कर न जाओ 
इसे अपना बचाओ 

     


दुनिया जो करती है
 उसे समझो तुम नादानी
मेरे इन अश्को को यूँ 
समझो न तुम पानी 

     


दुनिया की इन रस्मों को 
तुम तोड़ के न जाओ 
अपने देश के खातिर 
तुम मर मिट जाओ

     


इसे छोड़ के न जाओ 
इसे अपना तुम  बनाओ  
देश के गद्दारों को तुम
 फिर से समझाओ 

     

इसे छोड़ के न जाओ 
अपना देश बचाओ 
अपने देश पर तुम यारों 
अपनी जान लुटाओ

     

इसे छोड़ के न जाओ 
अपना देश बचाओ 
बीड़ी तम्बाखू गुटखा से 
अपने देश को बचाओ 

     

अगर जाओ तो कुछ करके
 अपने देश से जाओ 
इस देश के खातिर वीरों ने 
अपनी जान तक लुटाई

     

एस देश के गद्दारों को
 सबक भी सिखाई  
कुछ सीखो उनसे यारों 
ऐसे न तुम जाओ 

     

एस देश की मिटटी को 
समझो तुम सोना 
इस देश का बिकने न 
पाए एक भी  कोना

     


इस देश को छोटा सा 
समझों न तुम खिलोना 
अगर जाना है तो देश पर 
तुम मर मिट जाओ

     

ऐसे न इसे छोडो 
कुछ करके तुम जाओ 
इसे छोड़ के न जाओ 
अपना देश बचाओ